उत्तराखंड में कोरोना के 388 नए मामले, 15 लोगों की मौत

उत्तराखंड में कोरोना के 388 नए मामले, 15 लोगों की मौत

-राज्य में संक्रमण दर 6.66 फीसद, सक्रिय मरीज छह हजार
-राज्य में ब्लैक फंगस के 21 नए मरीज, पांच लोगों की मौत

देहरादून । उत्तराखंड में कोरोना के ग्राफ लगातार नीचे आ रहा है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 388 नए मामले सामने आए हैं जबकि 15 मरीजों की मौत हो गई। तीन हजार से अधिक लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। राज्य में छह हजार से ज्यादा सक्रिय मरीज हैं। प्रदेश में संक्रमण दर 6.66 फीसद और रिकवरी दर सुधार के साथ 94.27 फीसद पर पहुंच गई है।

स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक अलग-अलग सरकारी और निजी लैब के 17,872 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। प्रदेश में गुरुवार को 388 संक्रमित मरीज मिले हैं। राज्य के 12 जनपदों में दहाई और चंपावत में इकाई अंक में कोरोना के लक्षण मिले हैं।

प्रदेश में छह हजार 641 सक्रिय मरीज हैं। आज 3242 मरीज स्वस्थ्य होकर अपने घर गए। सबसे ज्यादा देहरादून जिले में 94, हरिद्वार जिले में 56, नैनीताल में 60, अल्मोड़ा में 24, पौड़ी में 14 , पिथौरागढ़ में 14 , टिहरी में 7, रुद्रप्रयाग में 22, उधमसिंह नगर में 30, उत्तरकाशी में 10, चमोली में 28, बागेश्वर 15,चंपावत में 14 संक्रमित मरीज मिले हैं।

गुरुवार को पांच जिलों में 15 कोरोना संक्रमितों की उपचार के दौरान मौत हुई। राज्य में मृतकों की कुल संख्या 6878 (2.05 फीसद) है। प्रदेश में 3 लाख 35 हजार 866 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें अभी तक तीन लाख 16 हजार 621 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। सैंपल के आधार पर राज्य में संक्रमण दर 6.66 प्रतिशत है। बुधवार को 94.27 फीसद के साथ रिकवरी दर में सुधार देखने को मिला। राज्य के नौ जिलों में कुल 108 जोखिम जोन हैं।

उत्तराखंड में ब्लैक फंगस के गुरुवार को 21 मरीज आए। अबतक 356 मरीजों में ब्लैक फंगस की पुष्टि हो चुकी है। उपचार के बाद 31 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। आज पांच मरीज की मौत हुई। अबतक पांच जिलों के अस्पतालों में उपचार के दौरान 56 मरीजों की मौत हो चुकी है।

प्रदेश भर के 467 बूथों पर कुल 48,290 लोगों का टीकाकरण किया गया। राज्यभर में 18-44 साल आयु वर्ग के अभी तक कुल 4,34434 लोगों का निशुल्क वैक्सीनेशन किया गया। अभी तक राज्य में 25,07684 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। 6,91360 लोगों को दोनों डोज लगाई जा चुकी है।

Related posts