रायपुर: कृषि कानून के विरोध में आज प्रदेश के किसान करेंगे चक्काजाम

रायपुर। केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि कानून के विरोध में शनिवार को प्रदेश के किसान भी चक्काजाम कर प्रदर्शन करने वाले है। रायपुर में आरंग रोड पर रसनी के पुराने टोल नाका और पुराने धमतरी रोड पर बोरियाखुर्द के पास सड़क रोकने की तैयारी है।

किसान संगठनों का इरादा दोपहर 12 बजे के बाद से सड़कों पर जमा होकर दिल्ली की सीमाओं पर लगभग 75 दिनों से चल रहे किसान आंदोलन को समर्थन देना है।

छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ से जुड़े संगठनों ने शुक्रवार शाम को चक्काजाम की तैयारियों को लेकर रायपुर में बैठक की। महासंघ के डॉ. संकेत ठाकुर ने बताया, प्रत्येक जिले में एक-एक स्थान पर चक्काजाम करने का फैसला हुआ है।

डॉ संकेत ठाकुर ने कहा-
इसके तहत रायपुर जिला में रसनी (आरंग), बालोद जिला में दल्ली राजहरा, धमतरी, मुंगेली, बिलासपुर, महासमुंद, भिलाई, राजनांदगांव, कोरबा, अम्बिकापुर आदि क्षेत्रों में चक्काजाम किया जाएगा।रायपुर के रसनी में हुई बैठक में वीरेंद्र पांडेय, गौतम बंद्योपाध्याय और डॉ संकेत ठाकुर ने कहा, केंद्र सरकार की ओर से कृषि सुधार के नाम पर लाए गए जनविरोधी कानूनों की वापसी एवं फसलों के एम एस पी की गारंटी की मांग लेकर देश भर में किसान आंदोलन हो रहे हैं।

आतंकवादी, नक्सली बताकर अन्नदाता को किया अपमानित
किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन को भाजपा द्वारा सुनियोजित ढंग से बदनाम किया जा रहा है। किसानों को आतंकवादी, नक्सली, आदि बताकर अन्नदाता को अपमानित किया जा रहा है। यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।केंद्र सरकार के किसान आंदोलन विरोधी रुख के खिलाफ एकजुटता दिखाने के लिए आज पुराने धमतरी रोड पर बोरियाखुर्द में चक्काजाम होगा। इसमें ट्रेड यूनिअन, जनसंगठन और नागरिक संगठओं के साथ रंगकर्म, कला, साहित्य से जुड़े संगठनों के कार्यकर्ता भी शामिल होंगे।

 

Related posts